रा ज पा प्रमुख श्री शेर सिंह राणा कल भिवानी मैं विशाल रैली को करेंगे संबोधित

0
50

रा ज पा प्रमुख श्री शेर सिंह राणा कल भिवानी मैं विशाल रैली को करेंगे संबोधित

अपना झंडा अपना घर के नारे के साथ चुनावी मैदान में उतरी (रा ज पा) राष्ट्रवादी जनलोक पार्टी के अध्यक्ष श्री शेर सिंह राणा जी कल भिवानी में पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। 1 सितंबर रविवार को हुड्डा पार्क भिवानी में 11:00 बजे से श्री शेर सिंह राणा कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे। जिसको लेकर भिवानी जिले के गांव और बवानीखेड़ा हलके से भारी संख्या में कार्यकर्ता हुड्डा पार्क भिवानी पहुंचेंगे।

बैन्डिट क्वीन’ के नाम से चर्चित फूलन देवी की हत्या के मामले में आजीवन कारावास की सजा काट चुके शेर सिंह राणा ने कुछ दिन पहले (आरजेपी) का ऐलान किया था। इसी के साथ राणा ने गाजियाबाद में पार्टी के सेंट्रल ऑफिस का उद्घाटन भी किया। नए राजनीतिक दल के ऐलान को लेकर नया सवेरा ने शेर सिंह राणा से खास बातचीत की। शेर सिंह राणा ने बताया कि आरजेपी नाम को हम पंजीकरण के लिए इलेक्शन कमिशन ऑफ इंडिया के पास भेज चुके है।

पार्टी क्या किसी वर्ग विशेष पर आधारित होगी? इस सवाल पर शेर सिंह राणा ने बताया, ‘आज केंद्र सरकार ने कैबिनेट मीटिंग में प्रस्ताव पारित किया कि 10 पर्सेंट आरक्षण सवर्ण वर्ग को देंगे। हमारी पार्टी की लाइन यह है कि हम सवर्ण हो या दलित हो, किसी को आरक्षण नहीं देंगे। यदि आरक्षण देना है तो आर्थिक आधार पर दीजिए क्यों आप जातिवाद में देश को बांटते हैं। चाहे दलित हो या सवर्ण हो, आर्थिक आधार पर आरक्षण दीजिए। सामान्य जाति और अल्पसंख्यकों के साथ देश में भेदभाव होता है। हमारी पार्टी उन लोगों के लिए काम करेगी। विशेष जोर हमारा सामान्य वर्ग और अल्पसंख्यक वर्ग की तरफ है। देश में कोई भी ऐसी पार्टी नहीं है जो इनके लिए काम करती हो।

फूलनदेवी की हत्या के मामले में दोषी ठहराने के बाद अब आप चुनाव तो नहीं लड़ सकते हैं, फिर ऐसा निर्णय, इस पर शेर सिंह राणा ने कहा, ‘मैं चुनाव लड़ने के लिए नहीं कर रहा हूं। मेरा सपना है कि देश का भला हो। जनरल कैटिगरी के लोग लड़ेंगे चुनाव।’ क्या आप अपनी पत्नी प्रतिमा सिंह को चुनावी मैदान में उतारेंगे? इस पर उन्होंने कहा, ‘चुनाव लड़ने का पूरा निर्णय हमारे 21 लोगों की संसदीय कमिटी लेगी। समाज के लिए क्या बेहतर होगा जैसी तमाम बातों को ध्यान में रखते हुए हम आगे बढ़ेंगे।

शेर सिंह राणा की राजनीतिक पार्टी में सहयोगी कुंवर दिलीप सिंह ने कहा, ‘हमारे आखिरी हिंदू सम्राट हुए थे पृथ्वीराज चौहान उनकी अस्थियां अफगानिस्तान से लाने वाले शख्स शेर सिंह राणा हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में आरजेपी की गजब की लोकप्रियता देखी जा रही है। लोग लगातार हमारे साथ जुड़ रहे हैं। हम हिंदू-मुस्लिम को एक मंच पर ला रहे हैं।’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here